मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में इस तरह मिलती है सहायता

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत राज्य सरकार की ओर से 6 श्रेणियों में सहायता प्रदान की जाती है। जो इस प्रकार से है-

प्रथम श्रेणी -    इस श्रेणी में जिन कन्याओं का जन्म 1 अप्रैल 2019 या उसके बाद हुआ हो, इस योजना का लाभ ले सकते है।

द्वितीय श्रेणी - इस श्रेणी में उन बालिकाओं को शामिल किया जाएगा जिनका एक  वर्ष के अंदर संपूर्ण टीकाकरण हो चुका हो और उनका जन्म 1 अप्रैल 2018 से  पहले नहीं हुआ हो।

तृतीय श्रेणी -  तृतीय श्रेणी में वे बालिकाएं शामिल होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया हो।

चतुर्थ श्रेणी -    चतुर्थ श्रेणी में वह बालिकाएं शामिल होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान छठी कक्षा में प्रवेश लिया हो।

पंचम श्रेणी -    पंचम श्रेणी में वह बालिकाएं शामिल होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान नवीं कक्षा में प्रवेश लिया हो।

षष्टम श्रेणी -  षष्टम श्रेणी में वे बालिकाए शामिल होंगी जिन्होंने 12वीं  कक्षा उत्तीर्ण करके चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान स्नातक -डिग्री या कम से  कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लिया हो।