PMSYM Yojana 2022: श्रमिकों के लिए बुढ़ापे की लाठी बनेगी ये योजना; मिलेगी ₹3000 पेंशन

केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्धारा असंगठित क्षेत्र के  नागरिकों के लिए विभिन्न योजनाएं चलाकर उन्हें रोज़गार से लेकर बुढ़ापे की  पेंशन तक सुविधा मुहैया कराने का कार्य किया जा रहा है।

सरकार की कईं योजनाओं का सीधा लाभ किसान, गरीब तबका, श्रमिक व बहु-बेटियों के लिए चलाई गई नई स्कीमें शामिल हैं।

वहीं, इन योजनाओं में प्रधानमंत्री श्रम योगी मान. धन पेंशन को भी शामिल किया जाता है जिसके अंतर्गत श्रमिकों को 60 साल की उम्र के बाद प्रति महीना 3000 रूपए दिए जा रहे हैं।

इस योजना में नामांकन करने के लिए तय आयुसीमा 18 से 40 वर्ष तक है, लेकिन पेंशन 60 साल पूरे होने पर ही मिलेंगी।

पीएम श्रमयोगी मानधन योजना क्या है?

ये भारत सरकार की एक सरकारी योजना है जो असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों और उनको सामाजिक सुरक्षा प्रदान करती है।

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के लिए लाभार्थी कौन ?

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना में व्यक्ति की उम्र 60 होने पर इसका लाभ मिलेंगा।

आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड, पहचान पत्र, बैंक की फोटोकॉपी, निवास प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज़ फोटो आदि.

आवेदन प्रक्रिया

आवेदन की प्रक्रिया जानने के लिए निचे दी गयी लिंक पर क्लिक करें.