मजदूरों और श्रमिकों को सरकार देगी जीवनभर 3 हजार की पेंशन

देश में असंगठित क्षेत्र से जुड़े तबकों के भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित करने के लिए भारत सरकार कई योजनाओं को चला रही है।

इसी कड़ी में आज हम आपको सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना के बारे में  बताने जा रहे हैं। इस स्कीम का नाम प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना है।

60 की उम्र के बाद मजदूरों और श्रमिकों के समक्ष कई तरह की आर्थिक परेशानियां खड़ी हो जाती हैं।

बुढ़ापे के दौरान उनके पास आमदनी कमाने का भी कोई रास्ता नहीं बचता। देश  में असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों की इसी समस्या को देखते हुए भारत सरकार  ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना को शुरू किया है।

योजना के तहत 60 साल की उम्र के बाद मजदूरों और कामगारों को हर महीने 3 हजार रुपये की पेंशन दी जा रही है।

इस योजना में आवेदन करने के लिए आपकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच होनी  चाहिए। इसके अलावा अगर आप ईएसआईसी या ईपीएफओ के सदस्य हैं, तो आपको योजना  का लाभ नहीं मिलेगा।

मान लीजिए आपकी उम्र 18 साल है। इस दौरान आप श्रम योगी मानधन योजना में आवेदन करने के बाद हर महीने 55 रुपये का निवेश शुरू करते हैं।

ऐसे में जब आपकी उम्र 60 वर्ष हो जाएगी। उसके बाद आपको हर महीने 3 हजार रुपये की पेंशन मिलेगी।

इस स्कीम में आवेदन करने के लिए आपको श्रम योगी मानधन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना है।

उसके बाद आपको अपनी सभी जरूरी डिटेल्स दर्ज करनी है। इस तरह आप आसानी से श्रम योगी मानधन योजना में आवेदन कर सकते हैं।